IP Full Form in Hindi 2019


Hello friends आप का स्वागत हे हमारे आज की एक न्यू पोस्ट में आज हम IP Full Form in Hindi, IP का Full Form क्या है, IP क्या होता है, आईपी क्या है, IP का पूरा नाम और हिंदी में क्या अर्थ होता है, इन सभी सवाल के जवाब के बारे में आप करेगे ।

IP Full Form in Hindi

IP Full Form in Hindi 


IP Full Form in Hindi - ip full form in computer (आईपी क्या होता है)



IP की फुल फॉर्म INTERNET PROTOCOL होती है और जिन डिवाइस में इंटरनेट चलाया जासकता है उनसभी डिवाइस में IP होती है और सभी डिवाइस की IP Address की id अलग अलग होती है । IP Address इस लिए कहा जाता है किऊ की IP की जो ID है वो एक Address की तरह काम करता है इसलिए IP Address कहा जाता है।


जब भी आप अपने डिवायस (मोबाइल, कॉम्पुटर) से internet पर किसी भी प्रकार की Information Search करते है तो आपकी IP address से राउटर को पता लगता है की आपकी IP के द्वारा Information Search किया गया है और फिर वो इंटरनेट से Information Collect करके आपके IP address पे भेज देता है इस तरह से आपकी IP की वजसे आप इंटरनेट का उपयोग करसकते है।

ये भी पढ़िए 

FIR FULL FORM IN HINDI

LIC FULL FORM IN HINDI

Format of IP Address


IP 32 bit के Binary Digit से बनता हे जो काफी मुश्किल और अलग होता है। IP address के हर भाग में 0 से 250 की बिच की सक्यासे बनता है जेसे :- 135.242.234.109

आज कल मोबाइल का उपयोग जीयादा बढ़ नेके कारन 32 Bit के IP address काफी जीयादा मात्रा में बनाय जा चुके  है जिससे अब IP address की सख्या कगार पर हे इसलिए नए IP Address System का विकास करलिया गया हे जो 128bit की है जिसमें Unlimited IP Address बनाय जा सकते है और ये कुछ इस तरह से दीखता है:- 2609:db6:0:4005:0:704:1:3

Version of IP Address

IP Address अभी तक सिर्फ दो ही वर्शन में बनाया गया है

1. IPv4

(Internet Protocol address version 4)

2. IPv6

(Internet Protocol address version 6)

Types of IP Address

  • Private IP Addresses
  • Public IP Addresses

  1. Dynamic IP Address
  2. Static IP Address


Private IP Addresse

जब आप कंप्यूटर या मोबाइल को केबल के साथ या केबल के बिना connect करते हे तब Private Network  बनता है. जो आपको file और संसाधन को शेयर करने केलिए एक नया IP Addresses दिया जाता है  इस Network के सभी Device के IP Addresses को Private Addresses कहा जाता है.


Public IP Addresses

Public IP Addresse वो होता है जिसमे Internet ' सर्विस प्रोवाइडर देता है और ये IP address Internet मे यूनिक होता है
Public IP Addresses दो प्रकार के होते है एक Dynamic IP Address और दूसरा Static IP Address

Static IP Address

Static IP Address :- वो होता है जो कभी भी बदल ता नहीं है आपके सभी काम में यही IP address रहता है जेसे कैमेरा, ईमेल.

Dynamic IP Addresses उपलब्द IP Addresses लेताहै और  जब भी इंटरनेट से connect होता है तो बदल जाता है. जीयादा Internet User के पास अपने कंप्यूटर के लिए Dynamic IP Addresses होता है जब इंटरनेट Disconnect होता है तब कट होजाता है और जब जर्रूर हो तब नया IP Addresses  मिलता है

Previous
Next Post »